Categories
अयोध्या लाइव अपडेट

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के संस्थापक राज ठाकरे की मुश्किलें कम होती नहीं दिख रही है कैसरगंज के बाहुबली सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने उनके खिलाफ मोर्चा खोल दिया है

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के संस्थापक राज ठाकरे की मुश्किलें कम होती नहीं दिख रही है कैसरगंज के बाहुबली सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने उनके खिलाफ मोर्चा खोल दिया है दलगत राजनीति से अलग उत्तर भारतीयों के महाराष्ट्र में अपमान और बर्बरता को लेकर के सांसद बृजभूषण सिंह ने राज ठाकरे से उत्तर भारतीयों से माफी मांगने की बात कही है अन्यथा अयोध्या में प्रवेश न दिए जाने की चुनौती दी है सांसद बृजभूषण सिंह का समर्थन व्यापक स्तर पर राम नगरी से भी मिल रहा है कल जहां बावरी पक्षकार इक़बाल अंसारी ने कैसरगंज के सांसद बृजभूषण शरण सिंह के द्वारा राज ठाकरे को दी गई चुनौती का समर्थन किया गया था तो आज अयोध्या के सभी प्रमुख पीठ के महंत और धर्माचार्यों ने भी सांसद बृजभूषण शरण सिंह का समर्थन किया है अखाड़ा परिषद के प्रवक्ता गौरी शंकर दास ने कहा कि महाराष्ट्र में उत्तर भारतीयों के साथ राज ठाकरे के नेतृत्व में मनसे कार्यकर्ताओं ने अभद्र व्यवहार किया था प्रताड़ित किया था अब अयोध्या आकर अपनी राजनीति चमकाना चाहते हैं लेकिन उससे पहले उन्हें उत्तर भारतीयों से माफी मांगी होगी अन्यथा उन्हें अयोध्या में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा राम नगरी के प्रमुख सड़कों और चौराहों पर बृजभूषण शरण सिंह के समर्थन में अयोध्या के सभी प्रमुख संतों के पोस्टर भी लग गए हैं जिसमें राज ठाकरे से माफी मांगने की अपील की गई है अन्यथा उन्हें अयोध्या में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा यह चेतावनी है।

वही सरयू नित्य आरती स्थल के अध्यक्ष शशिकांत दास ने कहा कि वह अयोध्या आना चाह रहे हैं भगवान राम की शरण में आना चाह रहे हैं उत्तर भारतीयों की शरण में आना चाह रहे हैं तो निश्चित रूप से उन्हें पहले उत्तर भारतीयों से माफी मांगनी चाहिए शशिकांत दास ने कहा कि रामलला सबके हैं जन जन के हैं पूरे राष्ट्र के राम हैं लेकिन जिस तरह से उत्तर भारतीयों का विरोध राज ठाकरे ने किया था यह सर्वदा अनुचित था उनको माफी मांगनी चाहिए।

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के प्रवक्ता गौरी शंकर दास ने कहा कि निश्चित तौर पर जो सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने उत्तर भारतीयों के अपमान पर माफी मांगने की बात कही है वह सर्वदा सत्य है और राज ठाकरे अयोध्या आ रहे हैं उसके पहले उनको उत्तर भारतीयों से माफी मांगनी चाहिए गौरी शंकर दास ने कहा कि उसके बाद वो अयोध्या आए उनका स्वागत है अगर वह माफी नहीं मांगेंगे तो उनका विरोध होगा और होना भी चाहिए जिस प्रकार से उत्तर प्रदेश और बिहार के लोगों पर उन्होंने जुर्म ढाए हैं यह सर्वदा अनुचित है और निंदनीय है गौरी शंकर दास ने कहा कि हम कोई राजनैतिक व्यक्ति नहीं हैं फिर भी भारत के नागरिक होने के नाते उत्तर प्रदेश का नागरिक होने के नाते सांसद बृजभूषण शरण सिंह के पहल के साथ हैं।

वही सरयू नित्य आरती स्थल के अध्यक्ष शशिकांत दास ने कहा कि निश्चित रूप से माननीय सांसद जी ने जो विरोध जताया है कहीं ना कहीं वह न्याय पूर्ण है और उचित भी है 2008 से लेकर के राज ठाकरे ने जिस तरह से उत्तर भारतीयों का विरोध किया है यहां तक कि उन गरीब असहाय लोगों को प्रताड़ित किया है डंडों से मारा है अपमान किया गया है उनको बर्बरता पूर्वक दंड दिया गया है राज ठाकरे के द्वारा निश्चित रूप से यह गलत था उनका शशिकांत दास ने कहा कि आज वह अयोध्या आना चाह रहे हैं भगवान राम लला की शरण में आना चाह रहे हैं उत्तर भारतीयों की शरण में आना चाह रहे हैं तो निश्चित रूप से उन्हें उत्तर भारतीयों से माफी मांगनी चाहिए यद्यपि रामलला सबके हैं जन जन के हैं पूरे राष्ट्र के राम हैं लेकिन जिस तरह से उत्तर भारतीयों का विरोध राज ठाकरे ने किया था यह सर्वदा अनुचित था और उनको माफी मांगनी चाहिए शशिकांत दास ने कहा कि जैसा बृजभूषण शरण सिंह ने कदम उठाया है सही कदम है उनका उत्तर भारतीयों से राज ठाकरे को माफी मांगनी चाहिए और उनको झुकने में क्या हर्ज है यदि हम भगवान के शरण में आ रहे हैं अब से पहले भक्ति मार्ग का यही प्रथम लक्षण है की नम्रता धीनता सोमता और निश्चित रूप से अपने अहंकार का त्याग करना कोई बहुत बड़ी बात नहीं है राज ठाकरे को माफी मांग लेनी चाहिए उत्तर भारतीयों से बिहार वासियों और उत्तर भारतीयों के ऊपर जो उन्होंने बर्बरता की थी उनको उसकी गलानी होनी चाहिए निश्चित रूप से से उन्हें माफी मांगनी ही चाहिए ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *