Categories
कन्नौज

कन्नौज में इत्र व्यापारी पुष्पराज जैन के ठिकानों पर आयकर का छापा

कन्नौज शहर के इत्र कारोबारियों की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही। इत्र कारोबारी पीयूष जैन के यहां मिले भारी कैश के बाद अब सपा एमएलसी इत्र कारोबारी पुष्पराज जैन उर्फ पम्पी जैन निवासी चिपट्टी और अयूब मियां के आवास और कारखानों में आईटी की टीमों ने छापा मारा है।
इत्र कारोबारी पुष्पराज जैन अखिलेश यादव के करीबी है और हाल में उन्होंने समाजवादी इत्र लांच किया था। आज अखिलेश यादव कन्नौज में प्रेसवार्ता करने आ रहे थे उनके आने से पहले शुरू हुई कारवाई को लेकर हलचल बढ़ गई।

कानपुर के इत्र व्यवसायी पीयूष जैन के यहां छापेमारी के बाद अब पुष्पराज जैन की कस्बा हसायन में इत्र की फैक्टरी पर कई टीमों ने छापेमार कार्रवाई की। यह टीमें कई गाड़ियों में यहां आई और अपनी कार्रवाई शुरू कर दी। यह फैक्ट्री पिछले कई साल से बंद थी।

वहीं, एमएलसी इत्र कारोबारी पुष्पराज जैन उर्फ पम्पी के खिलाफ हुई कार्रवाई पर समाजवादी पार्टी ने हमला बोला है। ट्वीट करते हुए लिखा है कि राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के कन्नौज में प्रेसवार्ता की घोषणा करते ही भाजपा सरकार ने सपा एमएलसी पम्पी जैन के यहां छापामार कार्रवाई करनी शुरू कर दी। भाजपा का डर और बौखलाहट साफ है, जनता भाजपा को सबक सिखाने के लिए तैयार है।

Categories
कन्नौज

गुड्स एंड सर्विस टैक्स इंटेलिजेंस महानिदेशालय(डीजीजीआई) ने पीयूष जैन मामले में आधारहीन खबरों का किया खंडन

कन्नौज की इत्र बनाने की कंपनी मेसर्स ओडोकेम इंडस्ट्रीज की गुड्स एंड सर्विस टैक्स इंटेलिजेंस महानिदेशालय(डीजीजीआई) द्वारा जो जांच की जा रही है –उसके संदर्भ में मीडिया के कुछ वर्गों में ऐसी रिपोर्टेस सामने आई हैं कि—- डीजीजीआई ने बरामद नकदी को विनिर्माण इकाई के कारोबार के रूप में मानने का फैसला किया है,और उसके मुताबिक आगे की प्रकिया बढाने का निर्णय लिया है।साथ ही कुछ मीडिया घरानों ने यह भी खबर चलाई है कि श्री पीयूष जैन ने अपनी देनदारी स्वीकार करने के बाद गुड्स एंड सर्विस टैक्स इंटेलिजेंस महानिदेशालय(डीजीजीआई) की स्वीकृति से कर बकाया के रूप में कुल 52 करोड़ रुपये जमा किए हैं।
इस तरह की खबरे पूरी तरह से काल्पनिक और आधारहीन है. डीजीजीआई इसका खंडन करती है.
इस संदर्भ में स्पष्ट किया जाता है कि श्री पीयूष जैन के घर और फैक्ट्री परिसर से जितना भी कैस (नकदी )इकट्ठा हुआ है,उसको जांच चलने तक भारतीय स्टेट बैंक की सुरक्षित अभिरक्षा में केस संपत्ति के रूप में रखा गया है। मेसर्स ओडोकेम इंडस्ट्रीज द्वारा जब्त की गई राशि से उनकी कर देनदारियों के निर्वहन के लिए कोई कर बकाया जमा नहीं किया गया है और उनकी कर देनदारियों का निर्धारण किया जाना अभी बाकी है। इसके अलावा, श्री पीयूष जैन द्वारा किए गए स्वैच्छिक प्रस्तुतियां चल रही जांच का विषय हैं.विभाग द्वारा जब्त किये गये कैस का श्रोत, मेसर्स ओडोकेम इंडस्ट्रीज पर कुल देनदारीं- तलाशी के दौरान विभिन्न परिसरों से एकत्र किए गए साक्ष्यों के मूल्यांकन और जांच के परिणाम पर आधारित होंगी. अपराध की स्वैच्छिक स्वीकृति और रिकॉर्ड पर उपलब्ध साक्ष्य के आधार पर, श्री पीयूष जैन को सीजीएसटी अधिनियम की धारा 132 के तहत निर्धारित अपराधों के लिए 26.12.2021 को गिरफ्तार किया गया था और 27.12.2021 को सक्षम न्यायालय के समक्ष पेश किया गया था। माननीय न्यायालय ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

Categories
कन्नौज

बिल्हौर की सपा नेत्री रचना सिंह ने आज अखिलेश यादव को बांधी राखी

बिल्हौर की सपा नेत्री रचना सिंह ने आज अखिलेश यादव को बांधी राखी अपने पैतृक गांव से रक्षाबंधन का त्यौहार मना कर अपने काफिले के साथ लखनऊ जा रहे थे तभी आगरा एक्सप्रेस वे पर सपा कार्यकर्ताओं के साथ खड़ी रचना सिंह को सपा कार्यकर्ताओं के साथ खड़ा देखकर अखिलेश यादव का काफ़िला रुक गया जिसके बाद अखिलेश यादव को रचना सिंह ने राखी बांधकर रक्षाबंधन का पर्व मनाया।

Categories
कन्नौज लाइव अपडेट

कन्नोज अगरबत्ती फैक्ट्री में आग लगी

अगरबत्ती फैक्ट्री में लगी भीषण आग, आग में झुलसने से 3 मजदूर घायल, घायलों को अस्पताल में कराया भर्ती, फायर ब्रिगेड ने आग पर पाया काबू, सदर कोतवाली के हरदोई तिराहा की घटना।

Categories
कन्नौज लाइव अपडेट

कन्नौज मैं मूक-बधिर नौकर ने मालिक को पीट-पीटकर मार डाला, स्थानीय लोगों की पिटाई के बाद चिल्लाने लगे

कन्नौज : घरेलू सहायिका का काम कर रहे एक युवक ने मूक बधिर बनकर अपने मालिक को पीट-पीटकर मार डाला और उसे बचाने आए एक बुजुर्ग रिश्तेदार को गंभीर रूप से घायल कर दिया.

घटना शनिवार को कन्नौज जिले के गुरसहायगंज थाना क्षेत्र के भुड़ा गांव की है. 24 साल के कथित आरोपी को स्थानीय निवासियों ने पीटा और जब उसने चिल्लाना और बात करना शुरू किया तो उसने सभी को आश्चर्यचकित कर दिया।

आरोपी ने खुद की पहचान कानपुर देहात जिले के रसूलाबाद क्षेत्र के मूल निवासी धर्मेंद्र कुमार के रूप में की है। पुलिस ने बताया कि आरोपी को हिरासत में ले लिया गया है और उससे पूछताछ की जा रही है.

खबरों के मुताबिक धर्मेंद्र पिछले तीन साल से कन्नौज के गुरसहायगंज थाना क्षेत्र के भूड़ा गांव के 43 वर्षीय संतोष कुमार के घर में रह रहा था. वह कभी किसी से बात नहीं करता था और मूक-बधिर होने का नाटक करता था। उन्होंने हमेशा इशारों की मदद से संवाद किया।

शनिवार को अचानक उसने संतोष को लकड़ी के धुले पैडल से मारना शुरू कर दिया। जब संतोष के रिश्तेदार प्रताप सिंह ने मदद के लिए उसकी चीखें सुनीं और संतोष को बचाने की कोशिश की, तो धर्मेंद्र ने उस पर भी हमला कर दिया।

उनकी चीख-पुकार सुनकर घर के अन्य लोग, पड़ोसी और ग्रामीण मौके पर पहुंचे और दोनों घायलों को पास के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। डॉक्टरों ने संतोष को इलाज के लिए आगरा रेफर कर दिया लेकिन रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया। प्रताप को कानपुर के अस्पताल में रेफर कर दिया गया।

सराय प्रयाग चौकी प्रभारी पंकज यादव ने कहा, ‘आरोपी धर्मेंद्र कुमार को हिरासत में ले लिया गया है और जांच की जा रही है. हालांकि, हत्या के कारणों का अभी पता नहीं चल पाया है क्योंकि उसने अभी तक हमें कारण का खुलासा नहीं किया है।

एसपी कन्नौज प्रशांत वर्मा ने कहा, ‘संतोष की पत्नी गोमती देवी की शिकायत पर नौकर धर्मेंद्र के खिलाफ आईपीसी की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है. फिलहाल, जांचकर्ता आरोपी से पूछताछ कर रहे हैं ताकि अपराध के पीछे के संभावित मकसद का पता लगाया जा सके।”