Categories
चंदौली लाइव अपडेट

दबिश के दौरान युवती की मौत मामला: चंदौली में देर रात तक होता रहा हंगामा, सैयदराजा इंस्पेक्टर पर मुकदमा

यूपी के चंदौली जिले में पुलिस पर गैंगस्टर के आरोपी कन्हैया यादव की तलाश में दबिश के दौरान एक युवती की पीट कर हत्या करने का आरोप लगा है। मामले में देर रात तक हंगामा होता रहा। आक्रोशित ग्रामीणों ने खूब बवाल काटा। इस प्रकरण में तहरीर के आधार पर सैयदराजा इंस्पेक्टर उदय प्रताप सिंह पर मुकदमा दर्ज हुआ है।

एसपी ने रविवार रात ही सैयदराजा इंस्पेक्टर को निलंबित कर जांच के निर्देश दिए थे। देर रात आईजी के सत्यनारायण और कमिश्नर दीपक अग्रवाल भी पहुंचे और पीड़ित के परिजनों से घटना की जानकारी ली। उन्होंने जांच कर उचित कार्रवाई का आश्वासन भी दिया। फॉरेंसिक टीम भी पहुंची।
डीएम संजीव सिंह ने बताया कि युवती के परिजनों की तहरीर के आधार पर थाना प्रभारी सैयदराजा पर मुकदमा दर्ज किया गया है। उनको तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। समाजवादी पार्टी ने इस घटना को लेकर यूपी पुलिस पर हमला बोला है।
सैयदराजा थाना क्षेत्र के मनराजपुर निवासी कन्हैया यादव गैंगेस्टर का आरोपी है और जिला बदर भी है। रविवार की शाम कन्हैया की तलाश में पुलिस उसके घर गई थी। आरोप है कि पुलिस ने उसकी बेटियों निशा यादव उर्फ गुड़िया (22) और गुंजा (18) को इतना पीटा कि गुड़िया की मौत हो गई। घटना के बाद जिले में हड़कंप की स्थिति बन गई।
घटना से गुस्साए ग्रामीणों ने मौके पर मौजूद पुलिस पैंथर टीम के दो सिपाहियों को दौड़ा लिया। एक पुलिसकर्मी दौड़कर भाग गया वहीं दूसरे पुलिसकर्मी हवलदार छविनाथ गौतम की लोगों ने खूब पिटाई कर दी। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गए। गांव के ही एक व्यक्ति ने उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया है। इसके बाद सैयदराजा-जमनिया मार्ग को ट्रैक्टर लगाकर जाम लगा दिया। इस दौरान एक ट्रक और प्राइवेट एंबुलेंस के शीशे तोड़ डाले। ग्रामीण आरोपियों पर कार्रवाई की मांग कर रहे थे।
सपा के पूर्व सांसद राम किशुन यादव, सकलडीहा विधायक प्रभु नारायण यादव, सपा जिलाध्यक्ष सत्य नारायण राजभर, चंद्रशेखर यादव, बलराम यादव, सुधाकर कुशवाहा पहुंच गए और न्याय की मांग करने लगे।
वहीं कुछ देर बाद पहुंचे डीएम संजीव सिंह और एसपी अंकुर अग्रवाल ने चोटिल युवती से उसका बयान लिया। घायल गुंजा ने बयान देते हुए बताया कि हमलोगों की पिटाई पुलिस ने की है। मौके पर भारी पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है। उधर, कन्हैया यादव ने सैयदराजा इंस्पेक्टर पर अपनी बेटी निशा की हत्या का आरोप लगाते हुए एसपी को तहरीर देकर आरोप लगाया कि घर में किसी पुरुष सदस्य के न रहने पर घुसे इंस्पेक्टर और अन्य पुलिसकर्मियों ने मेरी दो बेटियों को इतना पीटा कि एक की मौत हो गई।
एसपी अंकुर अग्रवाल ने कहा कि सैयदराजा थाना क्षेत्र का एक वीडियो शाम छह बजे के आसपास वायरल हुआ जिसमें एक महिला का मृत्यु होना बताया जा रहा है। इंस्पेक्टर द्वारा बताया गया कि चार बजे दबिश देने के लिए महिला पुलिस के साथ गए थे। उसकी इंट्री और वीडियो भी है। खोजबीन में जब कन्हैया नहीं मिला तो पुलिस आगे चली गई। इसके बाद वीडियो वायरल हो गया। इस मामले में जांच बैठाई गई है। पुलिस की लापरवाही मिली तो कार्रवाई होगी। प्रथम दृष्टया यह लग रहा कि महिला की मौत घर के किसी कारण से या फिर सुसाइड करने से हुई है।
समाजवादी पार्टी के ट्वीटर अकाउंट से युवती का वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा गया कि-‘यूपी में पुलिस हत्यारी बन चुकी है। निरंतर निर्दोष नागरिकों की बीजेपी सरकार द्वारा प्रायोजित हत्या हो रही है। चंदौली में घर में घुसकर पुलिसकर्मियों द्वारा दो बेटियों की बर्बर पिटाई में एक बेटी की मृत्यु, अत्यंत दुखद। दोषी पुलिसकर्मियों पर हो हत्या का केस, मिले कठोरतम सजा’।

Categories
चंदौली

चंदौली में बोले सीएम योगी बुआ-बबुआ ने नहीं किया कोई काम, भाई-बहन की जोड़ी ने सिर्फ परिवार का विकास किया

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को चंदौली जिले में सकलडीहा विधानसभा क्षेत्र में 30 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। इसमें रामगढ़ स्थित बाबा कीनाराम आश्रम के जीर्णोद्धार और सुंदरीकरण का काम भी शामिल है। इस दौरान उन्होंने रामगढ़ इंटर कॉलेज के पास जनसभा को संबोधित किया।
जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों ने चंदौली जिले का नाम देश-दुनिया में रोशन किया है। तीन साल पहले जिले में काला चावल पैदा नहीं होता था। लेकिन आज 2400 किसान 2100 हेक्टेयर भूमि पर ब्लैक राइस (काला चावल) की खेती कर रहे हैं।
सपा और बसपा पर निशाना साधते कहा कि जब उन्हें सत्ता मिली तो वो जातिवाद, परिवारवाद और वंशवाद से ऊपर उठकर काम नहीं कर पाए। उनकी सरकार में लूट, माफियागिरी और विकास के पैसों को लूटकर भ्रष्टाचार फैलाते थे। उन्होंने कहा कि आज भाजपा सरकार में वही पैसा लोगों के विकास के काम में लगाया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने सत्ता में रहने हुए राम भक्तों पर गोलियां चलाईं थी, लेकिन राम जन्म भूमि पर हमला करने वाले आतंकवादियों की पैरवी करके उनके खिलाफ दायर मुकदमों को वापस लिया।

उन्होंने कहा कि पहले की सत्ता में नौजवानों की नौकरी खा ली जाती थी। आज कानून-व्यवस्था बेहतर बनाकर माफियाओं पर नकेल कसी जा रही है। अराजकता फैलाने वालों और संपत्ति कब्जा करने वाले माफियाओं की छाती पर सरकार बुलडोजर चढ़ने के लिए हमेशा तैयार रहती है।